• Latest Post

    मुफ्त ऐप्स बिना अनुमति के ट्रैक करते हैं स्मार्टफोन को





    एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए बनाए गए अधिकांश मुफ्त ऐप्स बिना यूजर कीअनुमति के स्मार्टफोन को ट्रैक करते रहते हैं। यह दावा है गूगल प्ले की सिक्योरिटी पर रिसर्च करने वाले ग्रुप की रिपोर्ट का। रिपोर्ट में कहा गया है कि कई फ्री ऐप्स और वेबसाइट बिना किसी अनुमति के स्मार्टफोन को ट्रैक करते हैं और विज्ञापन भी दिखाते हैं।




    जहां ऐपल अपने ऐप स्टोर पर मिलने वाले हर ऐप पर निगरानी रखता है वहीं, गूगल प्ले स्टोर इस मामले में काफी खुला हुआ है। फ्रांस के यूरोकॉम सिक्योरिटी रिसर्च का कहना है कि एंड्रॉयड के कई फ्री ऐप्स भरोसेमंद नहीं कहे जा सकते हैं। ऐसे ऐप्स अनजान किस्म की वेबसाइट से जुड़े रहते हैं और यूजर की जानकारी और सूचनाओं के लिए खतरा हो सकते हैं।रिसर्च ग्रुप ने अपनी रिपोर्ट बनाने के पहले गूगल प्ले स्टोर से 25 कैटेगरी के 2000 से ज्यादा फ्री ऐप्स को डाउनलोड किया। उन्होंने इन ऐप्स को सैमसंग गैलेक्सी एस3 में इंस्टॉल किया। इस फोन में एंड्रॉयड का 4.1.2 वर्जन इंस्टॉल था और इसके सर्वर के द्वारा उन्होंने सभी ऐप्स के ट्रैफिक पर नजर रखी।इन ऐप्स द्वारा बनाए गए यूआरएल के अध्ययन और तुलना के बाद पता चला कि इनका कनेक्शन विज्ञापन संबंधी डेटाबेस था। ईजीलिस्ट नाम के डेटाबेस से जुड़े इन ऐप्स का संबंध ओपन सोर्स प्रोजेक्ट एडब्लॉक से था। इस तरह से उन्होंने प्रत्येक ऐप का अध्ययन किया।इन 2000 ऐप्स के यूआरएल का कनेक्शन 25000 डोमेन से था, जिनमेंसे कई तो अनजान नाम थे। इसके बाद रिसर्च ग्रुप ने यह निष्कर्ष निकाला कि नो सच ऐप (NoSuchApp) एक ऐसा एंड्रॉयड ऐप्लीकेशन है, जो यूजर के फोन के आउटगोइंग ट्रैफिकपर नजर रखता है। साथ ही यह ऐप उन वेबसाइट्स की जानकारी भी जाहिर करता है, जो आपके फोन को ट्रैक करती हैं। ग्रुप का कहना है कि यह इकलौता ऐसा ऐप है जो आपकी जासूस नहीं करता है।



    No comments