• Latest Post

    Hike ने लॉन्च किया हाइक डायरेक्ट सर्विस, बिना इंटरनेट करें एप यूज






    भारतीय मैसेजिंग एप हाइक ने गुरुवार को नया फ़ीचर हाइक डायरेक्ट लॉन्च किया जिसकी मदद से यूजर को फाइल ट्रांसफर करने या ऐप इस्तेमाल करने के लिए इंटरनेट की ज़रूरत नहीं पड़ेगी. इसके अलावा कंपनी ने बताया कि ऐप यूज़र की संख्या 7 करोड़ हो गई है.

    हाइक के फाउंडर और चीफ एग्जीक्यूटिव कविन भारती मित्तल ने कहा, ''ऐसे वक्त पर जब देश के ज्यादातर लोग इंटरनेट से कनेक्ट नहीं हैं. हाइक डायरेक्ट फीचर मैसेजिंग की दुनिया में क्रांतिकारी बदलाव आने वाला है. यह फ़ीचर बिना इंटरनेट के चल सकता है. इसके जरिए फोटो, स्टिकर, फाइल और मैसेज भेजे जा सकते हैं. बस सामने वाले शख्स को हाइक नेटवर्क पर मौजूद होने की ज़रूरत है.''




    मित्तल ने कहा, ''इस फ़ीचर के जरिए 70MB साइज तक के फाइल मात्र 10 सेकेंड में भेजे जा सकते हैं.''

    यह फ़ीचर इंटरनेट के बिना तो काम करेगा, लेकिन अगर दो यूज़र के बीच की दूरी 100 मीटर से ज्यादा हुई है तो काम नहीं करेगा. इस फ़ीचर के लिए जिस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है वह आज की तारीख में ज्यादातर हैंडसेट में वाई-फाई डायरेक्ट टेक्नोलॉजी के तौर पर उपलब्ध होते हैं.

    कंपनी ने जानकारी दी है कि हाइक मैसेजिंग ऐप्लिकेशन के यूज़र में हर साल 100 फीसदी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. इस ऐप के जरिए हर महीने लगभग 20 बिलियन मैसेज भेजे जा रहे हैं और एक यूज़र औसतन हर हफ्ते ऐप को 140 मिनट तक इस्तेमाल करता है.
     हाल ही में कंपनी ने अपने एप पर ग्रुप कॉलिंग का फीचर भी शुरु किया था जिसके तहत 100 लोग एक साथ कॉल कर सकते हैं.



    No comments