Header Ads

  • Latest Post

    खबरें ज़रा हटके:- 650 कुंवारी लड़कियों के खून से नहाई थी ये मोहतरमा!


    स्लोवानिया। आपने अभी तक इंसान को पानी से नहाते तो सुना होगा लेकिन क्या आपने किसी को खून से नहाते सुना है। जी हां, हम उस महिला का जिक्र कर रहे जो अपने आपको जवान बनाएं रखने लिए कुंवारी लड़कियों के खून से नहाती थी। आपको ऎसा सुनकर झटका तो लगा होगा लेकिन जनाब ये तो सच है। महिला सीरियल किलर के नाम से विख्यात एलिजाबेथ बाथरी के बारे में कहा जाता है वह अपने आपको जवान बनाएं रखने के लिए कुंवारी लड़कियों के खून से नहाती थी।
    आज सीरियल किलर के तौर पर जानी जाने वाली एलिजाबेथ बाथरी की मौत को 400 साल पूरे हो चुके है। लेकिन उन्होंने अपने आपको जवान बनाए रखने के लिए 1585 से 1610 के दौरान स्लोवानिया के चास्चिस स्थित अपने महल में करीब 650 से ज्यादा लड़कियों और औरतों को मौत को घाट उतार दिया था।
    रिपोर्ट के अनुसार, एलिजाबेथ के आतंक के करीब 25 सालों के बाद उसे 1610 में हंगरी के राजा ने उसे गिरप्तार कर लिया और 21 अगस्त 1614 को कैद में उसकी मौत हो गई थी।
    शादीशुदा एलिजाबेथ की शादी फेरेंक नैडेस्डी नाम के शख्स से हुई थी। बाथरी के जीवन पर कई किताबें लिखी जा चुकी हैं और कुछ फिल्में भी बन चुकी हैं। माना जाता है कि आयरलैंड के उपन्यासकार ब्राम स्टोकर ने बाथरी के विषय से ही प्रेरित होकर 1897 में ड्रैकुला उपन्यास लिखा था।

    No comments