• Latest Post

    कहॉ से आया एंड्रॉयड






    यह जो आप हरे रंग का सुन्‍दर का चित्र् देख रहे हैं, यह और कोई नहीं बल्कि आज के इस दौर के सबसे प्रचलित Android (operating system) एंड्रॉयड आपरेटिंग सिस्‍टम का लोगो यानी प्रतीक चिन्‍ह है। एंड्रॉयड मोबाइल फोन की दुनिया का सबसे तेजी से प्र‍गति करता आपरेटिंग सिस्‍टम है।




    क्‍या है जो एंड्रॉयड को सबसे अलग बनाता है
    एंड्रॉयड का सबसे बडा गुण जो इसे और आपरेटिंग सिस्‍टम से अलग बनाता है वह है Modification (संशोधन) यानी आप एंड्रॉयड में अपनी जरूरत के हिसाब से कोई भी बदलाव कर सकते हो, जिससे प्रोग्रामरों और डेवलपरों को एंड्रॉयड के लिये एप्‍लीकेशन बनाने में जो आसानी होती है, वो और किसी आपरेटिंग सिस्‍टम में नहीं होती। इसी कारण बहुत प्रतिष्ठित कम्‍पनियों जैसे नोकिया, ब्‍लैकबैरी और एप्‍पल को छोडकर अन्‍य सभी कम्‍पनियों ने एंड्रॉयड सिस्‍टम पर चलने वाले फोन और टेबलेट बाजार में उतार दिये हैं। जिससे मॅहगे और ब्रान्‍डेड फोन के फीचर हर रेन्‍ज के फोन में उपलब्‍ध हैं, और लगभग 700,000 एप्‍लीकेशन, गेम्‍स, भी एंड्रॉयड के लिये उपलब्‍ध है।

    क्‍या है यह एंड्रॉयड
    बहुत लोगों का कहना है कि आखिर क्‍या है यह एंड्रॉयड, कहॉ से मिलता है और क्‍या कीमत है इसकी ? तो सुनिये, एंड्रॉयड लाइनेक्‍स पर आधारित मोबाइल फोन और टेबलेट के लिये बनाया गया प्रचालन तंञ या आपरेटिंग सिस्‍टम हैा जिसको गूगल के द्वारा बनाया गया है, यह पूरी तरह से नि शुल्‍क है।

    एंड्रॉयड का इतिहास




    एंड्रॉयड आपरेटिंग सिस्टम अपने दिलचस्प नामों की वजह से भी लोकप्रिय है, सन् 30 अप्रैल, 2009 को एंड्रॉयड का पहला कमर्शियल वर्जन 1.5 मार्केट में लान्च किया गया जिसका नाम था, कपकेक. इसके बाद 15 सितम्बर, 2009 को डोनेट नाम से एंड्रॉयड 1.6 लान्च किया गया. इसी वर्ष 26 अक्टूबर को अक्लेर नाम से
    एंड्रॉयड 2.0-2.1 लान्च किया गया. वर्ष 2010 में एंड्रॉयड 2.2 फ्रोयो के नाम से लॉच किया गया तथा दिसम्बर, 2010 में जिन्जर ब्रैड 2.3 लॉच किया गया, वर्ष 2011 फरवरी में जिन्जर ब्रैड का संशोधित वर्जन 2.3.3-2.3.7 लान्च किया गया, जो काफी लोकप्रिय रहा, इसके बाद मई, 2011 में हनीकाम्ब 3.1 और जुलाई में हनीकाम्ब 3.2 लान्च किया गया और इसी वर्ष दिसम्बर में सर्वाधिक लोकप्रिय वर्जन आइसक्रीम सैन्डविच 4.0.3 तथा 4.04 लॉच गया किया, यह वर्जन खासतौर पर टेबलेट को ध्यान में रखकर बनाया गया था, इसके बाद वर्ष 2012 जैलीबीन के नाम से दो वर्जन और भी लान्च किये गये 4.1x और 4.2x में. इन सभी वर्जन को लोगों ने खूब पसंद किया तथा भारत में सस्ते स्मार्ट फोन का दौर आया. इसी वर्ष 2013 में गूगल एंड्रॉयड के नये वर्जन जैलीबीन 4.3 को लान्च करने वाला है.



    No comments