Header Ads

  • Latest Post

    सफ़रनामा ज़िन्दगी का।:- सफ़र माधुरी दीक्षित की ज़िन्दगी का।






         15 मई 1967 को जन्मी माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) आज बॉलिवुड की टॉप हिरोइनों में से एक हैं जिन्होंने अपने दौर और आज के दौर दोनों ही समय खूब वाहवाही बटोरी है. माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) एक माइक्रो बायोलॉजिस्ट बनना चाहती थीं जिसकी वजह से वह मुंबई आईं पर यहां की चकाचौंध दुनिया ने उन्हें सिनेमा की राह पकड़ने को कहा. एक प्रशिक्षित कत्थक नृत्यांगना होने के साथ उनमें अभिनय के गुण भी थे.



    अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत 1984 की फिल्म “अबोध” से की थी पर उन्हें असली पहचान मिली 1988 की फिल्म “तेजाब” से जिसके लिए उन्हें पहली बार फिल्मफेयर के लिए नामांकित भी किया गया था. फिल्म ‘तेजाब’ (1988) के गाने ‘एक दो तीन’ पर किये गये डांस ने उसे हिन्दी सिनेमा की एक बेहतरीन डांसर तथा एक्टर के रूप में स्थापित कर दिया. इस फिल्म के बाद माधुरी की एक के बाद एक हिट फिल्में आने लगीं और वह लाखों दिलों की चहेती मल्लिका बन गयीं.

    माधुरी की हंसी कातिलाना थी और उस पर उनकी अदाएं सोने पर सुहागा का काम करती हैं. राम लखन,परिन्दा ,त्रिदेव , किशन – कन्हैया, देवदास जैसी फिल्मों में माधुरी ने अपने अभिनय का जादू लोगों पर चलाया.




    बेटा, खलनायाक, हम आपके हैं कौन, दिल तो पागल है, पुकार और देवदास जैसी फिल्मों में अभिनय कर माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) ने सिनेमा जगत में अपना स्थान एक ऐसी जगह बना लिया जहां नायिकाएं उन्हें आदर्श मानने लगी.

    साजन और खलनायक जैसी फिल्मों में माधुरी और संजय दत्त की रोमांटिक जोड़ी रील लाइफ के अलावा रियल लाइफ में भी देखी गई थी लेकिन संजय दत्त के जेल जाने के बाद माधुरी ने संजय से नाता तोड़ लिया था.

    माधुरी का जलवा कुछ कुछ लोगों पर उसी तरह से चलता है जिस तरह से सलमान का. माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) आम लोगों के दिलों में रच बस गई थीं. “हम आपके हैं कौन”, “दिल तो पागल है” और “हम तुम्हारे हैं सनम” जैसी फिल्मों में गर्ल नेक्सट डोर की भूमिका में नजर आई माधुरी को लोगों ने खुद से जोड़ कर देखा जिसकी वजह से उनकी लोकप्रियता में जबरदस्त उछाल आया.

    माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) को उनके बेमिसाल अभिनय के लिए कई बार फिल्मफेयर के लिए नामांकित किया गया और तीन बार उन्हें फिल्मफेयर (सर्वश्रेष्ट अभिनेत्री) पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया. फिल्म “देवदास” के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ट सहभिनेत्री का खिताब भी मिला. साल 2008 में माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) को पद्मश्री पुरस्कार से भी नवाजा गया था.

    साल 1999 में माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) ने श्रीराम माधव नेने से विवाह कर लिया जो पेशे से एक डॉक्टर हैं. आज माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) का एक हंसता खेलता परिवार है जिसमे उनके दो बच्चे भी हैं.  आज भी माधुरी टीवी पर सक्रिय हैं. सोनी पर आने वाले डांस शो “झलक दिखला जा” की वह जज रह चुकी हैं और आगे भी उनका अभिनय के क्षेत्र से जुड़े रहने का मन है.



    No comments