• Latest Post

    क्यों सीखे मोबाइल रिपेयरिंग।





     
           मोबाइल फ़ोन आज हर एक व्यक्ति की ज़रूरत बन गयी है शायद ही कोई ऐसा हो जिसके पास मोबाइल ना हो। मोबाइल फ़ोन इलेक्ट्रॉनिक होने कि वजह से उसमे खराबी भी आती रहती है जिसे रिपेयर करवाना पड़ता है एक घर में आज लगभग सभी सदस्यों के पास अपना फ़ोन होता है। दिनोदिन मोबाइल यूज़र्स कि संख्या बढ़ती ही जा रही है तो जायज़ है मोबाइल रिपेयर करने वालो की भी मांग बढ़ती ही जायेगी।

         क्यों सीखे मोबाइल रिपेयरिंग।


              मोबाइल रिपेयरिंग की आवश्यकता दिनोदिन बढ़ रही है और सबसे बढ़िया बात ये है कि मोबाइल के पार्ट्स बहुत ही सस्ते में मिलते है आप कम से कम महीने के 25 से 30 हज़ार रुपये आसानी से कमा सकते है। कम लागत में ज्यादा फायदे का बिज़नस साबित होता हैं मोबाइल रिपेयरिंग और इसमें ज्यादा पढ़े लिखे होने की भी ज़रूरत नही है।
           अगर आप बेरोजगार है तो मोबाइल रिपेयरिंग सिख कर अच्छा खासा पैसा कमा सकते है।
        भारत जैसे देश में अन्य देशों की तुलना में बेरोजगारों की संख्या बहुत अधिक है पढ़े लिखे होने के बाद भी लोगो की अच्छा जॉब नही मिल पाता आसमान छूती महंगाई के दौर में किसी तरह गुजर बसर करनेवाले लोग 20 से 25 हज़ार रुपये देकर कैसे सीखेंगे मोबाइल रिपेयरिंग इसलिए मैं अपने बेरोजगार भाइयो की मदत करने के लिए मोबाइल रिपेयरिंग की पूरी जानकारी हिंदी में देने कि कोशिश कर रहा हूँ।जिससे वो भी खुद का व्यवसाय आरम्भ कर सके।




                                

                                                बृजेश यादव

                                एडमिन - Hindi Tech News




    No comments